महिला क्रिकेट टीम ने श्रीलंका को हराकर जीता पहला गोल्ड : Asian Games

0
69

भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने मंगलवार को चीन में आयोजित 19वें एशियाई खेलों के फ़ाइनल मैच में श्रीलंका को 19 रनों से हराकर स्वर्ण पदक जीता। भारतीय टीम की सुबह खराब शुरुआत हुई, शेफाली वर्मा ने सिर्फ 15 गेंदों में 9 रन बनाकर आउट हो गई। इसके बाद, स्मृति ने जेमिमा के साथ दूसरे विकेट के लिए 73 रनों की साझेदारी की। रणवीरा ने इस साझेदारी को तोड़ दिया। उन्होंने मंधाना को आउट किया, जिन्होंने 45 गेंदों में 46 रन बनाए, जिसमें चार चौकों और एक छक्के की मदद से। उसी समय, रिचा घोष ने 9 रन बनाकर आउट हो गई, कप्तान हरमनप्रीत कौर ने 2 रन बनाकर आउट हो गई, जबकि पूजा वस्त्रकर ने भी 2 रन बनाए।
जेमिमा रोड्रिग्ज़ ने 40 गेंदों में 42 रनों की पारी खेली, जिसमें पांच चौकों की मदद से। कप्तान हरमनप्रीत कौर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने का निर्णय लिया। स्मृति मंधाना ने भारत के लिए सबसे अधिक 46 रन बनाए, जबकि जेमिमा रोड्रिग्ज़ ने 42 रन बनाए। श्रीलंका के लिए, उदेशिका प्रबोधनी, सुगंदिका कुमारी और एनोका रणवीरा ने दो – दो विकेट लिए।
भारतीय फ़ास्ट बोलर तितास साधु ने श्रीलंका टीम के तीसरे ओवर में दो विकेट लिए साधु ने तीसरे ओवर के पहले गेंद पर अनुष्का संजीवानी को हरमनप्रीत कौर द्वारा कैच करवाया। संजीवानी केवल एक रन बना सकीं। इसके बाद, चौथे गेंद पर विश्मि गुणरत्ने को बोल्ड किया गया। पांचवे ओवर में, उन्होंने श्रीलंका की सबसे खतरनाक बल्लेबाज़ और कप्तान चमरी अतपट्टू को भी आउट किया (12 रन)। भारतीय गेंदबाज दीप्ति ने रणसिंघ को आउट किया जब श्रीलंका का स्कोर 18वें ओवर में 6 विकेट 86 रन पर था। देविका ने कविशा दिल्हारी को रिचा के द्वारा कैच करवाया और पांच रनों पर आउट किया। सुगंधिका कुमारी को राजेश्वरी द्वारा स्टम्प किया गया और जिसे रिचा ने आउट किया। श्रीलंका की टीम ने केवल 97 रन ही बनासकी। भारत के लिए, तितास साधू ने 6 रन दे कर के तीन विकेट लिए। जबकि राजेश्वरी गायकवाड़ ने 20 रन दे कर के दो विकेट लिए। दीप्ति शर्मा, पूजा वस्त्रकर और देविका वैद्य ने एक – एक विकेट लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here