क्या आप जानते है आपके बालों के झड़ने का असली कारण ये हो सकता है

0
55

बालों का झड़ना कई कारणों का परिणाम हो सकता है, और पोषण संबंधी कमी और हार्मोनल डिसफंक्शन निश्चित रूप से प्राथमिक कारणों में से एक हो सकते हैं। उदाहरण के लिए, यदि आप पोषण संबंधी कमियों के बारे में जानते हैं, तो आप उचित जीवनशैली में बदलाव करके या पूरक आहार लेकर इन्हें नियंत्रित कर सकते हैं, ताकि बालों के झड़ने के साथ कोई समस्या न हो। बालों का गिरना, पतले बाल, बालों का कम होना, हममें से ज्यादातर लोग जीवन में कभी न कभी इस समस्या का सामना करते हैं – पुरुष हो या महिला। ये समस्याएँ सभी को परेशान करने वाली हैं
बालो के झड़ने का कारण
1. आयरन की कमी: यदि आप एनीमिया से पीड़ित हैं, तो आपके बालों के फॉलिकल्स को पर्याप्त ऑक्सीजन और पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं। यह लगभग निश्चित रूप से बालों के झड़ने का कारण बन सकता है।
2. विटामिन डी की कमी: विटामिन डी नए बालो को उगाने में मदद करता है। जब आपके पास पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी नहीं होता, तो यह बालों के उगाने के चक्र को बिगाड़ सकता है और बालों के पतले होने और झड़ने की ओर ले जा सकता है।
3. थायराइड की समस्या: जब थायरॉयड ग्रंथि ठीक से काम नहीं करती है, तो इससे हार्मोन का असंतुलन हो सकता है जो बालों के विकास चक्र को बाधित कर सकता है और बालों के झड़ने का कारण बन सकता है। हाइपोथायरायडिज्म (एक निष्क्रिय थायरॉयड ग्रंथि) आमतौर पर बालों के झड़ने से जुड़ा होता है।
4. अत्‍यधिक एण्ड्रोजन: एण्ड्रोजन पुरुष हार्मोन हैं जो पुरुषों और महिलाओं दोनों में मौजूद होते हैं। जब शरीर बहुत अधिक एण्ड्रोजन का उत्पादन करता है, तो इससे बाल झड़ने लगते हैं। यही कारण है कि पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पीसीओएस) से पीड़ित महिलाओं के बालों में पतलापन आमतौर पर देखा जाता है।

उम्र बढ़ने के साथ हमारे बाल पतले क्यों होने लगते हैं?
वैसे तो बालों के पतले होने के बहुत से कारण हो सकते है। इन में से एक मुख्य कारण “हार्मोनल परिवर्तन और आनुवंशिक कारक एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसके साथ ही, तनाव, सिगरेट पीना, पर्यावरणिक प्रदूषण का सामना, खराब आहार और नींद की कमी बालों के झड़ने और बालों के घने होने में धीरे-धीरे कमी करने में योगदान करते हैं।”
जीवनशैली में बदलाव कर के हेयर फाल को कम कर सकते है।
स्वस्थ मानसिकता: इसकी शुरुआत छोटे-छोटे कदमों से हो सकती है, जैसे हर रोज 15 मिनट के लिए आरामदेह दिनचर्या को शामिल करना। जैसे जर्नलिंग, डूडलिंग, कला, नृत्य, सुखदायक संगीत सुनने जैसी गतिविधियाँ करें। ध्यान, योग, ईएफटी/टैपिंग कर सकते हैं। ये सभी गतिविधियाँ तनाव को दूर रखेंगी।
स्लीपिंग साइकिल: सर्कैडियन लय का पालन करना होगा। अच्छी नींद थायराइड को ठीक रखने में मदद करती है। अगर आप को नींद अच्छी लय में नहीं आ रही हो तो आप मेलाटोनिन, नींद लाने वाला न्यूरोट्रांसमीटर का प्रयोग कर सकते है और मेलाटोनिन का स्राव अच्छे थायरॉयड कामकाज और स्वस्थ काले बालों के लिए बहुत अच्छे से काम करता है।
नियमित व्यायाम: व्यायाम बालों सहित अंगों को ऑक्सीजन और पोषक तत्वों की आपूर्ति बढ़ाने में मदद करता है। सप्ताह में तीन घंटे व्यायाम, प्रतिदिन 10,000 कदम चलना न्यूनतम लक्ष्य होना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here