युद्धग्रस्त यमन में 2017 में 200 से ज्यादा बच्चों की मौत : यूनिसेफ

सना, 8 अगस्त| संयुक्त राष्ट्र के एक वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को कहा कि यमन में चल रहे गृह युद्ध में 2017 की शुरुआत से अब तक कुल 201 बच्चों की मौत हो चुकी है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, सोमवार को यमन में यूनीसेफ के रेजिडेंट प्रतिनिधि मेरिटसेल रेलानो ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, “2017 में यमन में 201 बच्चों की मौत हुई है। इनमें 152 लड़के और 49 लड़कियां शामिल हैं।”

रेलानो की टिप्पणी सऊदी नेतृत्व वाली गठबंधन सेना द्वारा यमन के उत्तरी प्रांत सादा के महदा क्षेत्र में एक परिवार पर हवाई हमले के तीन दिन बाद आई है, जिसमें छह बच्चों और तीन महिलाओं की मौत हो गई थी।

रेलानो ने शुक्रवार को हुए हमले की निंदा की, हालांकि उन्होंने हमले के पीछे किसी पक्ष पर आरोप नहीं लगाया।

रेलानो ने यह भी कहा, “2017 की शुरुआत के बाद से 377 लड़कों को भर्ती कर संघर्ष में उनका इस्तेमाल किया गया। हम जानते हैं कि इससे कहीं ज्यादा संख्या में शामिल हैं..दुर्भाग्यपूर्ण।”

संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों के मुताबिक, दो साल से ज्यादा समय से छिड़े गृह युद्ध में अब तक 10,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी हैं, जिनमें अधिकांश नागरिक हैं और तीस लाख से ज्यादा लोग विस्थापित हो चुके हैं।

यूनीसेफ ने मार्च 2017 में युद्ध में अब तक 1,546 बच्चों की मौत होने और 2,450 अन्य के घायल होने की जानकारी दी थी।

LEAVE A REPLY