श्री राजीव दीक्षित के बताये चार नियमो का पालन करे और निरोग रहें

स्वर्गीय श्री राजीव दीक्षित जी को भारत में स्वदेशी अभियान लाने के रूप में जाना जाता है, विदेशी कंपनीओ के खिलाफ भारत में आज जो हवा चल रही है उस हवा का मूल कारण कही ना कही राजीव जी ही थे. राजीव दीक्षित जी नें अपने व्याख्यान कई विषयों पर दिए है, उनमें से जीवन में अपने आप को स्वस्थ रखने के लिए कुछ छोटे-छोटे बदलाव हैं ये बदलाव भारतीय आयुर्वेद की पद्दति पर आधारित है और इन्हे कोई भी व्यक्ति आसानी से अपना सकता है.

  1. खाना खाने के तुरंत बाद पानी ना पीये, भोजन के तुरंत बाद पानी पीना बेहद हानिकरक है, खाना खाने के करीब 1 घंटे बाद ही पानी पीना चाहिए.

2. पानी हमेशा खूंट-खूंट कर पीना चाहिए, कभी एक सांस में पानी ना पीये हमेशा चाय का काफी की तरह धीरे-धीरे आराम के साथ पानी पीना चाहिए.

3.फ्रीज का पानी, वाॅटर कूलर का पानी या बर्फ का पानी कभी नही पीना चाहिए. ये हमारे शरीर के तापमान को तेजी के साथ बदलता है जो कि काफी हानिकारक होता है. इसलिए फ्रीज के पानी के सेवन से हमेशा बचना चाहिए.

4. सुबह सोकर उठने के साथ ही 2 से तीन गिलास पानी पीना चाहिए, इस प्रयोग के ब्रश करने से पहले करना चाहिए. पानी को पीने के कुछ के बाद शौच के लिए जाना चाहिए.

जीवन में इस छोटे प्रयोगो को अपनी अदत बनाकर आप आसानी के साथ जीवन को नियोग रख सकते है और किसी भी बिमारी के दूर कह सकते है.

इस वीडियो में राजीव जी ने इन सभी बातों को विस्तार के साथ बताया है जिसे आपको जब भी मौका लगे जरूर सुनना चाहिए…

Video Credit: YouTube

 

LEAVE A REPLY