एनडीटीवी के नए मालिक बनेंगे, अबकी बार मोदी सरकार का नारा देने वाले

Image Credit: Twitter

सोशल मीडिया में आज कयासो और शिगुफो का जोर रहा, प्रमोद महाजन के कार्यकाल में उनके आफिसर आॅन स्पेशल ड्यूटी रहे अजय सिंह अब कहा जा रहा है कि एनडीटीवी के सबसे बडे शेयर होल्डर होंगे. इसका मतलब साफ है कि वो एनडीटीवी के नए मालिक होंगे और प्रणव राय कि जगह लेंगे.

इस बात की अभी किसी तरफ से पुष्टि नही हुई पर कयासों का बाजार पूरी तरह से गर्म है और चर्चा जोरों पर चल रही है. अजय सिंह को डीडी न्यूज और डीडी स्पोर्ट्स के लांच में अहम कडी के रूप में देखा जाता है.

स्पाइस जेट के मालिक है अजय सिंह

अजय सिंह कई तरह के कारोबार से जुडे हुए है और उन्होने काफी पहले मोदीलूफ्ट नाम की कपंनी एसके मोदी से खरीदी थी ये कंपनी पहले लूफ्तांजा के साथ मिलकर कारोबार करती थी और काफी वक्त से घाटे में चल रही थी. अजय सिंह के कंपनी को टेकओवर करने के बाद कंपनी ने अपना ग्रयेर बदला और मुनाफे की तरफ बढने लगी. कंपनी का नाम अब स्पाइट जेट है.

बीजेपी को दिया अबकी बार, मोदी सरकार का नारा

2014 के लोकसभा चुनावों में बीजेपी ने प्रधानमंत्री मोदी की जीत सुनिश्चित करने की लिए जिस कोर कमेटी का गठन किया था, अजय सिंह इस कमेटी का हिस्सा है और उनके कहने पर ही अबकी बार, मोदी सरकार का नारा फाइनल किया गया.

जो डील का बात कही जा रही है उसके मुताबिक अजय सिंह के पास अब कंपनी के 400 शेयर होंगे और वो ही एनडीटीवी की संपादकीय टीम के मालिक होगे जिसके बाद एनडीटीवी के सुरों का बदलना तय माना जा रहा है. एनडीटीवी पर 400 करोड रूपये का कर्ज है जिसे अजय सिंह की अदा करेंगे और डील के मुताबिक प्रणव राय और राधिका राय को 50-50 करोड रूपए दिए जाएंगे.

 

 

सीबीआई के छापों के बाद एनडीटीवी की सूरत बदली

5 जून की सुबह-सुबह एनडीटीवी के को फाउंडर प्रणव राॅय और उनकी पत्नी के घर पर छापेमारी की गई. ये छापेमारी बैक फ्राॅड और मनी लांड्रिंग से जुडी हुई थी. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एनडीटीवी के प्रमुख प्रणव राय और  उनकी कंपनी पर मनी लांड्रिग के जरिए कालाधन विदेशों में भेजने का आरोप है जिसे लेकर इनकम टैक्स की टीम उन पर कार्यवाही कर रही है. और मामला अभी कोर्ट में हैं. इस सीबीआई की छापेमारी को लेकर दिल्ली में तमाम राजनैतिक संगठन और कुछ मीडिया संस्थानो ने काफी विरोध प्रदर्शन किया था.

LEAVE A REPLY